Vajan Badhane Ki Medicine

0

Vajan Badhane Ki Medicine

वजन बढ़ाने की मेडिसिन

(Medicine For Weight gain)

दुबलापन एक अभिशाप!

स्वास्थ्य और व्यक्तिगत पर्सनेलिटी के दृष्टिकोण से न तो अधिक मोटापा सही है और न ही अधिक दुबलापन। अत्यधिक मोटापा और दुबलापन दोनों ही व्यक्ति के लिए अभिशाप साबित होते हैं। मोटे लोग जहां शारीरिक रूप से भद्दे व अजीब नजर आते हैं, साथ ही कई प्रकार के रोग भी उन्हें घेर लेते हैं। उसी प्रकार दुबलेपन के शिकार लोग भी बिल्कुल आकर्षक नहीं लगते और बीमारियों उन्हें सदैव घेरे रहती हैं।
इस हिंदी लेख में हम दुबलेपन के विषय में चर्चा करेंगे और अत्यधिक दुबले-पतले लोगों को किन-किन परेशानियों का सामना करना पड़ता है या फिर यूं कह सकते हैं दुबलेपन के नुकसान क्या हैं? इस हिंदी लेख में जानेंगे।

आप यह हिंदी लेख Weightgain.co.in पर पढ़ रहे हैं..

दुबलेपन में होने वाली परेशानियाँ-

Vajan Badhane Ki Medicine

1. दुबला-पतला व्यक्ति हृष्ट-पुष्ट शरीर वालों के बीच आनंद का अनुभव प्राप्त नहीं कर सकता है। ऊपर से वह कितना ही मुस्करा दे, हंसने का अभिनय करें, लेकिन अंदर से हीनभावना का स्रोत प्रस्फुटित होता है, कि ‘काश! मैं भी इन जैसा होता।’

2. यदि किसी विवाहित दम्पत्ति में पत्नी हृष्ट-पुष्ट हो तो पति के साथ कहीं आना-जाना भी कठिन होता है। स्वयं तो हीनभावना से ग्रस्त होते ही हैं, पत्नी भी अपने आपको कोसती है। विशेषकर तब, जबकि सहेली भी अपने हृष्ट-पुष्ट, सुडौल शरीर वाले पति के साथ होती है।

3. यदि अंदर से ऐसा व्यक्ति स्वस्थ भी होता है, तो अनायास लोग पूछ बैठते हैं , ‘क्या आप बीमार हैं?’ अर्थात् बेचारे स्वस्थ व्यक्ति को भी अस्वस्थ समझ लेते हैं।

4. दुर्बल व्यक्ति की भोजन की मात्रा एक सुडौल व्यक्ति की तुलना में अधिक होती है। वह पार्टियों दावतों में अधिक भोजन करके प्रमाणित भी करना चाहता है कि मैं अपेक्षाकृत अन्य से अधिक पचाने वाला हूूं। जबकि वास्तविकता कुछ और होती है। ऐसे व्यक्ति के शरीर में तो आहार या पेय का मात्र ग्रहण और निष्कासन ही होता है। यदि पाचन क्रिया ठीक से होती, पाचन संस्थान उचित रूप से सक्रिय होता तो पोषक तत्व को शरीर की 1-1 कोशिका तक ठीक से अवश्य पहुंचा देता है। यदि ऐसा होता तो शारीरिक कृशता नहीं होती।

5. ऐसे व्यक्ति यदा-कदा अपने स्वास्थ्य के बारे में चिंतित भी रहते हैं। इन विचारों से मानसिक तनाव बढ़ता और कई रोग हो जाते हैं।

6. दुर्बल व्यक्ति कभी भी कांतिवान ओजवान और वीर्यवान नहीं हो सकता है। परिणामतः दाम्पत्य जीवन भी सुखी नहीं रहता है।

7. यदि कोई लड़की या स्त्री दुर्बलता का शिकार हो तो उसमें श्वेत प्रदर, रजोदोष, हाथ-पावों में जलन, चक्कर आना, कमर दर्द आदि कष्ट होते हैं। रजोदोष के कारण बांझपन हो जाता है।

यह भी पढ़ें- मोटापा घटाएं

8. कुछ लोग शरीर को सुडौल बनाने की दृष्टि से अपनी खुराक कम कर देते हैं। परिणामतः शरीर को आवश्यक पोषक तत्व नहीं मिलते हैं, जिससे अंग विशेष कमजोर होने लगते हैं, जिससे अनेक रोग हो जाते हैं। अतः समुचित आहार अवश्य लें। पुरूषों की अपेक्षा स्त्रियों और लड़कियों में आहार कम करके शरीर सुडौल बनाने की इच्छा अधिक होती हैं।

9. लड़कियाँ और स्त्रियाँ स्लिम फिगर पाना चाहती हैं, क्योंकि उनकी खूबसूरती और सफलता इसी पर निर्भर करती हैं। परिणामतः खानपान अव्यवस्थित हो जाता है, जिस कारण अनेक रोगों के शिकार होने के साथ-साथ आत्महत्या तक की प्रवृत्ति जग जाती है। भला ऐसी चाह किस काम की?

10. परिश्रम करना अनुचित नहीं है, बल्कि अच्छे स्वास्थ्य एवं शरीर के लिए आवश्यक भी है। लेकिन अति श्रम भी शरीर के लिए हितकर नहीं है। पौष्टिक आहार के अभाव में कठिन परिश्रम शरीर को दुर्बल बना देता है।

स्वास्थ्य से संबंधित अन्य जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें..http://chetanherbal.com/

Summary
Vajan Badhane Ki Medicine
Article Name
Vajan Badhane Ki Medicine
Description
how to gain weight in a week Mota Hone Ka Powder Price Vajan Badhane Ka Powder vajan badhane ke liye yoga vajan badhane ke upay vajan badhane ki medicine weight badhane ke liye medicine weight gain weight gain foods list Weight Gain Tips in Hindi
Author
Publisher Name
pharmacy
Publisher Logo

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *